ipc 375 बलात्कार

IPC 375 बलात्कार : 

 कोई भी व्यक्ति अगर - 

ipc 375
ipc 375


अ) अपना लिंग किसी भी स्त्री के योनी मे मूह मे या फिर उसके गुदद्वारे  मे  किसी भी लिमिट में अंदर डालेगा या फिर उसको उसके साथ या फिर किसी और व्यक्ति के साथ या वैसा करने के लिए जबरदस्ती करेगा

 ब)  किसी भी प्रकार की वस्तु या फिर वह लिंग नहीं होगा ऐसा बॉडी का कोई भी पार्ट किसी भी औरत की योनी मे मूह मे या फिर उसके गुदद्वारे  मे  किसी भी लिमिट में अंदर डालेगा या फिर उसको उसके साथ या फिर किसी और व्यक्ति के साथ या वैसा करने के लिए जबरदस्ती करेगा

क) किसी भी औरत का बॉडी का पार्ट इस तरह से हैंडल करेगा कि,औरत की योनी मे मूह मे या फिर उसके गुदद्वारे  मे  किसी भी लिमिट में अंदर डालेगा या फिर उसको उसके साथ या फिर किसी और व्यक्ति के साथ या वैसा करने के लिए जबरदस्ती करेगा

ड)  अपना मुंह अगर किसी औरत के योनी को गुदद्वारे को मूत्र मार्ग को लगाएगा या फिर उसको उसके साथ  या फिर किसी अन्य व्यक्ति के साथ वैसे करने के लिए जबरदस्ती करेंगा । 


पहिला -  उसकी इच्छा के विरुद्ध

दूसरा -  उसके सम्मति बिना

तीसरा -  जब उसको या फिर उसके ईद संबंध जिसमें अटका हुआ हो ऐसे किसी भी व्यक्ति को खून या फिर घायल करने के अपने दबाव में रखें उसने परमिशन ली हो ऐसी परिस्थिति में उसके  सम्मति के साथ

चौथा -  आप उसके पति नहीं हो और वह जिसके साथ कानूनी तौर पर विवाह किया हो या फिर वैसा वह समझेगी  वैसा कोई भी पुरुष मतलब आप ही है वह समझ के चल रही है उसने सम्मति दी हो यह जब व्यक्ति को पता होगा तब सम्मति के साथ,,

पांचवा -  समाधि देने के वक्त मानसिक या फिर नशे में होने के कारण या फिर उसने या फिर अन्य किसी व्यक्ति के तरफ से किसी भी प्रकार की पदार्थों सेवन करने के लिए दिया हुआ हो जिस चीज के लिए सहमति दे रही है उसका स्वरूप और परिणाम जानने के लिए समर्थ रहने के बावजूद उसके सन्मति के साथ,

छटा - वह 18 साल की कम उम्र की रहकर भी उसके सुमति के साथ या फिर  सम्मति के बिना

सातवा -  वह सम्मति सूचित करने के लिए समर्थ होगी,  इसके अलावा किसी भी प्रकार की प्रस्तुति होगी अगर उस व्यक्ति ने ऊपर दी गई हुई कोई भी कृत्य किया  होगा उसे बलात्कार कहां जाएगा

ipc 375 बलात्कार ipc 375  बलात्कार Reviewed by Admin on May 04, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.